Surya Mantra in Hindi सूर्य देव के शक्तिशाली मंत्र, जपते ही पूरी होगी हर इच्छा

भारतीय संस्कृति में सूर्य को पूजनीय देवता माना जाता है और उनकी उपासना के लिए कई मंत्र प्रचलित हैं। सूर्य मंत्र विभिन्न वेदिक और तांत्रिक परंपराओं में प्रचलित हैं और सूर्य देवता की पूजा और आराधना के लिए उपयोग होते हैं। ये मंत्र बहुत शक्तिशाली माने जाते हैं और उनकी कृपा एवं आशीर्वाद प्राप्ति के लिए जाप किये जाते हैं। यहां हिंदी में कुछ प्रसिद्ध सूर्य मंत्र दिए गए हैं।

1. ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः। (Om Hram Hreem Hroum Sah Suryaya Namah)

अधिक सकारात्मकता, ऊर्जा, उज्ज्वलता और समृद्धि के लिए यह मंत्र प्रयोग किया जाता है। इस मंत्र का जाप करने से आपको सूर्य देवता की कृपा, ऊर्जा, उज्ज्वलता और समृद्धि प्राप्त हो सकती है।

2. ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः। (Om Hreem Hreem Suryaya Namah)

यह मंत्र सूर्य देवता की कृपा और आशीर्वाद के लिए जाना जाता है। इसका जाप करने से आपको सूर्य की किरणों का आदान-प्रदान होता है और आपका मन और शरीर प्रकाशमय होता है।

3. ॐ सूर्याय नमः। (Om Suryaya Namah)

इस मंत्र का जाप करने से आप सूर्य की कृपा प्राप्त कर सकते हैं और आपके जीवन में प्रकाश और तेज आ सकता है। यह मंत्र सूर्य देवता की पूजा और आराधना के लिए जाप किया जाता है और आपको सूर्य की कृपा एवं आशीर्वाद प्राप्त करने में सहायता कर सकता है। यदि आप सूर्य मंत्र का जाप करना चाहते हैं, तो ध्यान रखें कि इन मंत्रों का नियमित और निष्ठापूर्वक जाप करना चाहिए।

4. ॐ घृणिः सूर्याय नमः॥ (Om Ghriṇih Suryaya Namah)

यह मंत्र सूर्य देवता की कृपा और प्रकाशमयता को आपके जीवन में आने में सहायता कर सकता है।

    5. ॐ हृां मित्राय नम:

    इस सूर्य मंत्र का नियमित जाप करने से शरीर में ऊर्जा का संचार होता है और स्वास्थ्य को सुधारता है। यह मंत्र सूर्य की ऊर्जा को अपने अंदर आत्मसात् करने में मदद करता है और शरीर को प्रकाशमय बनाने में सहायता प्रदान करता है।

    6. ॐ हृीं रवये नम:

    इस सूर्य मंत्र का जाप करने से मन की शांति और ध्यान की स्थिति प्राप्त होती है। इसके द्वारा मन को शुद्ध करके स्थिरता और ध्यान की अवस्था प्राप्त की जा सकती है।

    7. ॐ हूं सूर्याय नम:

    इस सूर्य मंत्र का जाप करने से आपका आत्मविश्वास और सामर्थ्य मजबूत होता है। यह मंत्र आपको सफलता की ओर अग्रसर करता है और आपकी क्षमताओं को सुदृढ़ करता है।

    8. ॐ ह्रां भानवे नम:

    इस सूर्य मंत्र का जाप करने से आपको बुराई और अनुकूलता से रक्षा मिलती है। यह मंत्र आपको नकारात्मकता से बचाकर पॉजिटिविटी और सुरक्षा प्रदान करता है।

    9. ॐ हृों खगाय नम:

    इस सूर्य मंत्र का जाप करने से आपको ब्रह्मा तेज (दिव्य प्रकाश) की प्राप्ति होती है। यह मंत्र आपकी आध्यात्मिक उन्नति में सहायता करता है और आपको दिव्य ज्ञान और प्रकाश की अनुभूति करवाता है।

    10. ॐ हृ: पूषणे नम:

    इस सूर्य मंत्र का जाप करने से सूर्य देव की असीम कृपा होती है और सूर्य देव की शक्तियों को प्राप्त करके मनुष्य तेजवान और सफल बनता है।

    ऊपर दिए गए मन्त्रों के अलावा कुछ अन्य शक्तिशाली सूर्य मंत्र नीचे दिए गए हैं।

    • ॐ ह्रां हिरण्यगर्भाय नमः
    • ॐ मरीचये नमः
    • ॐ आदित्याय नमः
    • ॐ सवित्रे नमः
    • ॐ अर्काय नमः
    • ॐ भास्कराय नमः

    सूर्य मंत्र का जाप कैसे करें?

    सूर्य मंत्र का जाप करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

    1. तैयारी: शुरूआत में, ध्यान को स्थिर करने के लिए एक शांतिपूर्वक और सात्विक वातावरण तैयार करें। एक स्थिर और शुद्ध स्थान चुनें जहां आप निश्चित रूप से बिना व्याकुलता के बैठ सकें।
    2. आवाहन: सूर्य के लिए अपनी भावना स्थापित करें और मन में उन्हें आवाहित करें। यहां आप अपनी आंतरिक शक्ति के साथ सूर्य के आदान-प्रदान का अनुभव करने का इंतजार करें।
    3. मंत्र जाप: मंत्र के जाप के लिए माला या अंगुठी में १०८ माला करें। अपने मस्तिष्क पर ध्यान केंद्रित करें और सूर्य मंत्र को शुद्धता और श्रद्धापूर्वक जाप करें। मंत्र को ध्यान से उच्चारित करें और मन्त्र की ध्वनि का आनंद लें।
    4. ध्यान: मंत्र जाप के दौरान, सूर्य देवता के चित्र को मनस्थिति में रखें या उनकी किरणों को मनस्थिति में दृश्य करें। उनकी ऊर्जा को अपने शरीर और मन में आने दें।
    5. ध्यानावस्था में रहें: मंत्र जाप के दौरान, ध्यान और धारणा की स्थिति में रहें। मन को खाली करने का प्रयास करें और सूर्य देवता के साथ एकता और संयोग अनुभव करें।
    6. समाप्ति: १०८ माला करने के बाद, सूर्य देवता को आभार व्यक्त करें और उनकी कृपा और आशीर्वाद की कामना करें। ध्यान समाप्त करें और शांतिपूर्वक बैठे रहें।

    ध्यान दें कि यदि आप पहले से ही किसी गुरु या आध्यात्मिक निर्देशक के पास हैं, तो उनसे संपर्क करके सूर्य मंत्र के जाप की विधि और मार्गदर्शन प्राप्त करें।

    निष्कर्ष

    ध्यान दें कि ये फायदे नियमित और निष्ठापूर्वक मंत्र जाप करने के बाद ही प्राप्त हो सकते हैं। सूर्य मंत्र के जाप के लिए आपको उच्चारण के नियमों का पालन करना चाहिए और इसे निरंतर और श्रद्धापूर्वक करना चाहिए। सूर्य मंत्र और अन्य मंत्र जाप के विडियो के लिए हमारे Bhakti Ocean YouTube Channel पर विजिट करें।

    Leave a Comment